Gehu Ki Kheti Kaise kare – Avoid These 9 Wrong Mistakes

Gehu Ki Kheti (गेहू की खेती) भारत मे  98 लाख से 7,85,85,09,750 टन गेहू का हर साल भारत मे उत्पादन होता है, और सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में गेहू का उत्पादन होता है, भारत गेहू उत्पादन में दूसरे स्थान पर आता है पूरे विश्व मे, और पहले स्थान पर चाइना आता है, तो हम इस लेख में जानेंगे की गेहूं की खेती (Gehu Ki Kheti) कैसे करें

gehu ki kheti kaise kare

Gehu Ki Kheti
Kheti Se Paise Kaise Kamaye

Gehu Ki Kheti कैसे करे

1 एकड़ में 50-60 KG गेंहू के बीज पर्याप्त होते है, एक एकड़ के लिए, कुछ प्रजातियां को कम लग जाता है, 1 एकड़ में कितना लगेगा वह प्रजातियों पर भी निर्भर करता है, लेकिन फिर भी 50-60 KG पर्याप्त हो हो जाता है, एक एकड़ के लिए।

लगाते समय ध्यान दे की खेत में ज्यादा पानी ना हो और ज्यादा सुखा भी ना हो, मिट्टी में नमी होनी चाहिए, लगाते समय सिड्रिल के मदद से भी लगा सकते हो और लेबर से बुवाई भी कर सकते हो, लेकिन सबसे अच्छा फायदेमंद सीड्रिल से ही लगाना अच्छा होता है।

gehu ki kheti kaise kare

Gehu Ki Kheti की प्रमुख प्रजातियाँ

अलग अलग राज्यों में एरिया के और मिट्टी के हिसाब से प्रजातिया अच्छी या गलत हो सकती है, फिर भी अगर देखा जाए तो,

  • पूसा तेजस जिसका उत्पादन है 24 – 25 कुटंल प्रति एकड़
  • 8663 – ये गेंहू की प्रजाति का उत्पादन है 23 कुंटल प्रती एकड़
  • श्रीराम – 303,322,463 इनमे से 303 प्रजाति अच्छी होती है।

अगर आपको बेचने के लिए गेहू लगाने है तो पूसा तेजस या 8663 लगा सकते हो, इन प्रजातियों में उत्पादन ज्यादा होता है जिससे कि आपको फायदा ज्यादा होगा, और अगर

खाने के लिए लगाना है तो आप श्रीराम को लगा सकते हो, श्रीराम प्रजाति के गेहूं खाने के लिए अच्छे होते हैं लेकिन इनका उत्पादन प्रति एकड़ के हिसाब से कम है तो आपको नुकसान हो सकता है।

मार्केट में और भी प्रजातियां आती है, आप उनको भी एक बार देख ले लगाने से पहले, क्योंकि आपके एरिया के हिसाब से यह प्रजातियां ठीक भी हो सकता है और नहीं भी। इसलिए अच्छा यही है कि आप मार्केट में एक बार देख ले गेहूं की खेती के लिए अच्छे प्रजातियां कोनसी आपके एरिया के हिसाब से।

gehu ki kheti kaise kare

गेंहू के खेती (Gehu Ki Kheti) में निवेश

एक एकड़ में गेंहू का खर्च बुवाई,कटाई,खरपतवार नाशक,सिंचाई, खाद,जुताई,स्प्रे और भी अन्य खर्च।

खेत की तैयारी

2-3 ट्राली गोबर खाद खेत में बखेर कर गहरी जुताई करिए, इसके बाद रोटावेटर से खेत को समतल और मिट्टी को भुर-भूरा कर लीजिए।

2-3 बार खेत को कल्टीवेटर की सहायता खेत की जुताई करें अगर बहुत ही ज्यादा नम मिट्टी है तो आप कल्टीवेटर करने के बाद 1-2 दिन रूके और उसके बाद रोटावेटर लगाएं खेत को समतल करने की लिए।

(Gehu Ki Kheti) गेहूं की खेती को खाद डालनी है तो कल्टीवेटर के दौरान आप डाल सकते हो या फिर आपने 3 से 4 महीने के अंदर आपने पहले खाद डाली होगी तो कल्टीवेटर के दौरान डालने की जरूरत नहीं है।

गेंहू को खेती में पौधे को कितना दूरी पर लगाए

  • सीधे में 4-5 CM
  • आड़े में 7-8 CM

Gehu Ki Kheti – बुवाई विधि

अक्टूबर के 25 तरीके से 15 – नवंबर के आस-पास तक आप गेंहू की बुवाई कर सकते हो और लगाते समय 4-5 CM तक गहराई में लगाना है। हात से और सिडरल में से सिड्रिल से गेहूं लगाइए गा अच्छे उत्पादन के लिए।

आप जहां गेहू लगाने वाले हो वहां पर मुट्ठी भर लगाकर  देखे और देखे के कितना गेहूं निकला है और कितना नही निकला, इससे आपको मिट्टी का अंदाजा आ जाएगा और गेहूं कैसे है वह भी पता चल जाएगा।

अक्टूबर के आखिरी सप्ताह से नवंबर की 15 तारीख तक गेहू लगाने का सबसे अच्छा समय रहता है, इस समय पर गेहूं लगाने से गेहूं को ज्यादा रोग नहीं लगता और अच्छा उत्पादन होता है, और सीड्रिल से लगाने का फायदा यह है कि इससे गेहू कितने गहराई मैं लगाना है इसका नियंत्रण आपके हाथों में रहता है। लगाते समय 4-5 CM तक गहराई में लगाना है।

Gehu Ki Kheti – बुवाई के समय ध्यान देने वाली बाते

  • DAP लगभग 30KG
  • SSP लगभग 50KG
  • यूरिया (N) 25KG
  • MOP 20 KG
  • इनको मिलाके बुवाई के समय इनका इस्तेमाल करना है।

gehu ki kheti kaise kare

सिंचाई

पहली सिंचाई बुवाई के 1-2 दिन बाद और फिर 12-15 दिनों के अंतराल में सिंचाई करना चाहिए। ये मिट्टी पर भी निर्भर करता है, साधारण तौर पर 5-6 बार लोग कर लेते है सिंचाई

gehu ki kheti kaise kare

उर्वरकों का प्रयोग

पहली खाद बुवाई के 25-30 दिन बाद देनी है, 45 KG यूरिया खाद, 5 KG सूक्ष्म पोषक, प्रती एकड़ जड़ो के पास

दूसरी खाद बुवाई के 50-55 दिनों के बाद देनी है, 1 बोरी यूरिया, 5-6 KG iffco कंपनी की सागरिका दानेदार प्रति एकड़ जड़ो के पास दे।

gehu ki kheti kaise kare

Gehu Ki Kheti – में खरपतवार नियंत्रण

gehu ki kheti kaise kare

बुवाई के 24 घंटे के अंदर खाली खेत में Pandam Athlin
30% एसिको एक लीटर 200 लीटर पानी में मिलाके स्प्रे करना है।
और किसी कारण से आपने यह नहीं किया तो बुवाई के 25-30 दिन बाद खरपतवार नाशक का प्रयोग कर सकते हो
खरपतवार आए पर ही खरपतवार नाशक का इस्तेमाल करें, बिना किसी वजह के इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

gehu ki kheti kaise kare

गेहूँ की फसल में कीट और उनका नियंत्रन

  • पर्ण रतुआ / भूरा रतुआ
  • धारीदार रतुआ या पीला रतुआ
  • तना रतुआ या काला रतुआ
  • करनाल बंट खुला कंडुआ या लूज स्मट
  • पर्ण झुलसा या लीफ ब्लाईट
  • चूर्णिल आसिता या पौदरी मिल्ड्यू
  • ध्वज कंड या फ्लैग समट
  • पहाड़ी बंट या हिल बंट

gehu ki kheti kaise kare

इनके लिए प्रोपोकोनोझोल 25% EC 200ML + क्लोरोफिफोस 50% + साइपरमेथ्रिन 5% EC 350ML प्रती एकड़ की दर से स्प्रे करे, 150 लीटर पानी। 1 स्प्रे 45- 55 दिनों के बीच

gehu ki kheti kaise kare

गेंहू का पीलापन दूर कैसे करे

किसान भाई गेंहू को खाद भी दे देते है फिर भी गेंहू पीलापन नही छोड़ता, तो इसके लिए वाटासेलिबल पेंसिल खाद दे सकते हो, जब गेंहू की फसल 40-45 दिनों की हो जाए तब आप N:P:K 19:19:19
500-700 ग्राम प्रति एकड़ के हिसाब से दे सकते हो।

gehu ki kheti kaise kare

उत्पादन

गेंहू का उत्पादन प्रजातियों,मिट्टी,सिंचाई,खाद के ऊपर निर्भर करता है, फिर भी 24-26 कुंटल प्रती एकड़ हो सकता है, और कई जगहों पे 18-19 कुंटल भी हो जाता है।

कटाई

गेहूं की खेती (Gehu Ki Kheti) में कटाई थोड़ा मुश्किल काम होता है, कटाई आप कटर मशीन से या हार्वेस्टर से कर सकते या लेबर की सहायता से भी कर सकते हो।
gehu ki kheti kaise kare

gehu ki kheti kaise kare

  • हार्वेस्टर:- हार्वेस्टर से पौधे से गेहूं सीधा आपके पास आ जाता है, लेकिन किसी किसी खेत में हार्वेस्टर चल नहीं पाता।
  • कटर मशीन:- कटर मशीन आप कहीं पर भी चला सकते हो कम जगह पर भी लेकिन इससे आपको बंधाई करनी होगी और गेहू निकालने के लिए अलग मशीन बुलानी होगी।
  • लेबर:- हार्वेस्टर या कटर मशीन से खेत के किनारे के गेहूं नहीं निकल पाते इसलिए फिर लेवल भी काम आ जाते हैं।

इनकम

एक एकड़ में गेंहू का खर्च बुवाई,कटाई,खरपतवार नाशक,सिंचाई, खाद,जुताई,स्प्रे और भी अन्य खर्चा निकाल कर ₹10,000 से ₹30,000 तक कमा सकते हो

Gehu Se Paise Kaise Kamaye

भण्डारण

अगर मार्केट मे अच्छा भाव नहि है, तो आप भण्डारण करके भी रख सकते हो, गेंहू रखने के लिए Air Tight Container का इस्तेमाल करे। gehu ki kheti kaise kare
अगर भंडारण अच्छे से नहीं करोगे तो गेहूं में कीड़े लग सकते हैं, तो यह बात का ध्यान रखें कि गेहूं को हवा बंद डब्बे में रखे।

gehu ki kheti kaise kare

Gehu Ki Kheti – उपज

24-26 कुंटल प्रती एकड़ की उपज हो जाती, है Gehu Ki Kheti से, यह कई चीजों पे निर्भर करता है, जैसे, मिट्टी, गेंहू की प्रजाति, सिंचाई,खाद,उर्वरक,मौसम आदि।

gehu ki kheti kaise kare

आवश्यक बाते

गेहूं की खेती में रोगों का ध्यान देना चाहिए, इसके अलावा खरपतवार नाशक का इस्तेमाल कर रहे है तो कृपया ध्यान दे की खेत पर पहले सिंचाई कर ले हल्की सी पौधे की जड़ नरम आना चाहिए, और उन्नत किश्मो का ही चयन करना चाहिए, कोई भी न लगाए जिनका उत्पादन कम हो, जरूरत से ज्यादा यूरिया का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, 60 दिन के बाद नाइट्रोजन माने यूरिया का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, यदि 60 दिन के बाद यूरिया का इस्तेमाल करोगे तो कई प्रकार के रोग आ सकते है, Gehu Ki Kheti को। to know more

gehu ki kheti kaise kare

गेहूं की खेती करते वक्त खेत में ज्यादा पानी नहीं रहना चाहिए कीटनाशकों का सही समय पर इस्तेमाल करें जैसे बुवाई के 24 घंटे के अंदर पैंडम एथलीन का प्रयोग करे, उर्वरक का सही इस्तेमाल करें तो गेहूं के पौधे में कीड़ा तो नही लग रहा है, यह जांच करले। बुवाई करने में ज्यादा देरी ना होने दे, ज्यादा देरी होने से गेहूं मे कीडा लग सकता है और जैसा गेहूं को वातावरण चाहिए वैसा मिल नहीं पाता।

gehu ki kheti kaise kare

People also ask

गेहूं की खेती कौन से महीने में की जाती है?

हूं की खेती कौन से महीने में की जाती है?
गेंहू की खेती अक्टूबर के आखरी सप्ताह से नवंबर के 10 तारिक तक की जाती है

गेहूं की वैज्ञानिक खेती कैसे करें?

गेंहू की वैज्ञानिक खेती नए उपकरण और नई तकनीक से वैज्ञानिक खेती करे

गेहूं की अच्छी खेती कैसे करें?

गेहूं की अच्छी खेती के लिए गोबर खाद, कोकोपीट,कीटनाशक, जैसे चीजों का इस्तेमाल करे

गेहूं की फसल बोते समय कितना तापमान चाहिए?

गेहूं की फसल बोते समय 27° सेल्सियस से 37° सेल्सियस तापमान चाहिए

सबसे अच्छा गेहूं का बीज कौन सा होता है?

ज्यादा उपज के लिए “8663” या “पूसा तेजस” बीज कौन सा होता है।

गेहूं का अच्छा बीज कौन सा है?

गेहूं का अच्छा बीज “श्रीराम” हो सकता है

अधिक पैदावार वाली गेहूं कौन सा है?

अधिक पैदावार वाली गेहूं पूसा तेजस, 8363 है

खाने में सबसे अच्छा गेहूं कौन सा है?

खाने में सबसे अच्छा गेहूं “श्रीराम” प्रजाती का है

गेहूं की खेती सबसे ज्यादा कहां होती है

गेहूं की खेती सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में की जाती है

भारत में हाइब्रिड गेहूं के बीज

सोनालिका
एटलस 66
कल्याण
हिमगीरी

गेहूं की खेती सबसे ज्यादा कहां होती है

गेहूं की खेती सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में की जाती है

1 एकड़ में गेहूं कितना होना चाहिए?

1 एकड़ में गेहूं 24 से 26 क्विंटल होना चाहिए

भारत में गेहूं का उत्पादन

भारत मे 98 लाख से 7,85,85,09,750 टन गेहू का हर साल उत्पादन होता है

for detailed information

gehu ki kheti kaise kare

3 thoughts on “Gehu Ki Kheti Kaise kare – Avoid These 9 Wrong Mistakes”

Leave a Comment

Business Ideas in Hindi Manufacturing Business Ideas in Hindi – कम बजट में लाखो के व्यवसाय Atm Ka Avishkar Kisne Kiya Tha | ATM card information Frozen Food Manufacturing Business Idea Affiliate Marketing se paise kaise kamaye